Under Guidance of PS Malik

Posts tagged ‘Pratap Shree’

DIWALI SKIN BURNS: A COMPLETE TREATMENT

Burning and scalding are great evils in life. The patient has to face a great pain, agony and helplessness. No medicine appears to working effectively on the blisters and the burns. Such accidents are prominently there near festivals particularly Diwali. This Video gives you a complete account of curing the burns.

courtesy:

www.psmalik.com

MEDITATION: 5 TIPS TO BEGINNERS

 

;

 

Sometimes beginners feel difficulty while beginning the meditation. They are dissuaded by the technicalities, unanswered questions and other related problems. This video has addressed such problems and suggested the ways to solve them and proceed on the path of meditation smoothly and surely.

DEPRESSION: CURE BY HOMEOPATHY

There are numerous techniques of revival from the depression. Using your mind through subconscious mind is one of them while having the homeopathic medicines is the other. This video has explained all major types of Depressions and their corresponding Homeopathic Remedies. A thousands of people have benefitted from them.

Courtesy:

http://www.psmalik.com

YOGA 7.2: DHYANA TO EXPLODE YOUR SUB CONSCIOUS

exploding-head

This method of Dhyana will explode the thresholds of sub conscious mind. You will find yourself on the Gate of the Pure Consciousness. A domain of eternal bliss.

You are on the verge of Being Buddha. You are on the verge of sublimating into the BRAHMA. The MAYA ends before this point.

youtube-logo 600x300

TREATING OBESITY WITH YOUR MIND POWER

_67591396_900x600

 

MOST of the weight loss programs fail because your mind does not cooperate with you. Your mind and its desires are a great hurdle in the weight management. Pratap Shree had experimented Mind-Power Methodology on several seekers with a certainty of success. Here the methodology is deciphered.

Conscious Mind

अपने होशो हवास के दौरान आप जिस Mind का इस्तेमाल करते हो वह Conscious Mind है। अपने रोज डेली रूटीन के कामों में आप इसी Conscious Mind का प्रयोग करते हो। यह Mind बहुत हलचल भरा होता है और सिर्फ ऊपरी ऊपरी कामों के लिये इस्तेमाल किया जाता है। यह आपकी Mind Power को केवल 10% हिस्सा होता है। इससे आप बहुत बड़े बड़े काम शायद नहीं कर सकते क्योंकि यह बहुत छोटा हिस्सा होता है।

Sub Conscious Mind

बड़े कामों के लिए कुदरत ने आपके भीतर ताकत का बड़ा भंडार दिया है। और यह है आपका Sub Conscious Mind.

यह आपके गहरे विचारों को नियंत्रित करता है। जो विचार कुदरत के साथ मिलकर काम कर सकते हैं वे विचार इसी Sub Conscious Mind से आते हैं। इसे अगर आप तरीके से ट्रेन कर सकोगे तो यह असंभव से दिखने वाले कामों को भी आसानी से कर लेता है।

youtube-logo 600x300

courtesy:

www.psmalik.com

Depression is a chance of Revival

Depression

Depression is the state when you feel short of energy. You are not oriented outwardly to the world. It is your internal state when you have withdrawn from the world outside. You are filled with a sense of self-condemnation.

Depression के दौरान आप के भीतर तीन बातें जरूर मिलेंगी-

  • आपको जो कुछ चाहिये था वह त्यागना पड़ता है।
  • जो कुछ आपको अच्छा नहीं लगता था वह आपको स्वीकार करना पड़ता है
  • इस स्वीकार और अस्वीकार के उलझाव में आप ग्लानि या Self-Condemnation से भर उठते हो।

Depression का जन्म तो Evolution के दौरान हुआ और यह आपकी Biology में समा गया है। आपके Evolution में आपके सामने हमेशा दो रास्ते पेश किए – Fight Or Flight. सामने खतरा है तो लड़ो और लड़ नहीं सकते तो भाग जाओ। लेकिन जो ना लड़ सकते थे और ना भाग सकते थे उन्होंने जिंदा रहने के लिए तीसरा रास्ता खोज लिया – submission का रास्ता, झुकने का रास्ता या दासत्व का रास्ता।

यह जो तीसरा रास्ता है submission का रास्ता यह जीवित बच जाने की एक तरकीब है। This is a Survival Technique.

Watch the video here:

youtube-logo 600x300

Courtesy:

www.psmalik.com

PRATYAHARA: USE THE WORLD LIKE A MIRROR

Basic RGB

Pratyahara is not to block your senses. It is not correcting the creation of God by blinding the eyes etc. Pratyahara is awakening to the experience of senses. It is not to abandon joy and happiness. It is about enjoying the world while being awake. You simply have not to carry the debris of your sense experience.

इन्द्रियों को इस दुनिया से विमुख नहीं करना है। आपकी इन्द्रियाँ मूल्यवान हैं स्वयँ ईश्वर ने इन्हें आपको सौंपा है। इन्हें बंद कर देने से ईश्वर का अपमान होगा। ऐसा करने की आवश्यकता नहीं है। केवल इन इन्द्रियों को जाग कर इस्तेमाल करना है। इनसे दुनिया की खबर सूचनाएँ हासिल करनी हैं और बस। इतना ही करना है। उन सूचनाओं के कूड़ा करकट को भीतर जमा नहीं होने देना है। इतना काफी है यह प्रत्याहार हो जाता है। जब वस्तुएँ सामने हों तो उन्हें देखने, सूँघने, चखने, सुनने और छूने में क्या आपत्ति हो सकती है। उनका उपयोग करो और आगे बढ़ो। रुकना नहीं है।

 

 

youtube-logo 600x300

 

COURTESY

http://www.psmalik.com

PRANAYAMA IS THE DIMENSION OF YOUR BREATH

pranayam white ed

By controlling your breath you can control your body and your mind. Pranayam is a remedy to overcome anxiety, depression, self-guilt, sadness and unknown fear. The Pranayam is the only technique available to approach and then control your mind without adopting any invasive methods.

बात सिर्फ मूर्ति जैसा होकर बैठने की नहीं है। आगे की है। सुखपर्वक स्थिर होने की है। सुख जब शरीर बेचैन ना हो, सुख जब दूसरों के धन के सपने ना आएँ, सुख जब चित्त शाँत हो जाए। उन्होंने सुख का अर्थ सोना भी नहीं लिया वरना तो सोने से बेहतर कोई और स्थिति ना होती जब आप स्थिर भी होते और सुखी भी होते। परन्तु योग सोने का ठिकाना नहीं है जागने का उपाय है।

पुराने ऋषि शरीर को गिरा देने के लिए गुफाओं और जंगलों में चले जाते थे। भूख प्यास की चरम स्थितियों के बाद शरीर गिर जाता था। चेतना के ऊपर पड़ा परदा झीना हो जाता था। यह चेतना को जगाने का उपाय था। आज भी कई सम्प्रदायों के लोग मृत्यु से पूर्व अन्न और जल को त्याग कर शरीर की बाहरी ऊर्जा को गिरा देते हैं। वे अपनी चेतना को उच्चतम विकास तक ले जाने का उपाय करते हैं। जो बिल्कुल भौतिक आधार पर जीते हैं उनके लिए इसे समझना काफी मुश्किल है। इसीलिए योग आसन में उतरने से पहले यम और नियम के द्वारा साधक को पर्याप्त होमवर्क करवा देता है।

WATCH THE COMPLETE VIDEO AT YOUTUBE

 

youtube-logo 600x300

COURTESY

http://www.psmalik.com

ASANA: Feel a Motion inside your Stationary Body

Yoga sitting

Asana is a pleasant stability of your body. Then you can realize a changing inner self inside that stationery body. Asana is a device for realization that you exist even beyond the limits of your body. It shows you the path of moving ahead in consonance with that inner consciousness.

It is different from what is being sold in the market in the name of Asana.

Watch the complete Video at YouTube

youtube-logo 600x300

http://www.psmalik.com

NIYAMA IN YOGA

Woman balancing on beach front wall

Woman balancing on beach front wall

निज् + यम = नियम. YAMAS meant for you individually are NIYAMAS. These are meant to rinse your inner existence. Yoga starts with some psychological tools to mould your consciousness. NIYAMAS are those psychological tool directed to prepare you for next stage of ASANAS. Here are the details .

. .

WATCH THE COMPLETE VIDEO ON YOUTUBE

youtube-logo 600x300

COURTESY

http://www.psmalik.com

Tag Cloud